पूजा करते समय कपड़ा जलना शुभ या अशुभ / पूजा करते समय दीपक का बुझना

पूजा करते समय कपड़ा जलना शुभ या अशुभ / पूजा करते समय दीपक का बुझना – हिन्दू सनातन धर्म में रोजाना भगवान के पूजा पाठ आदि करे जाते हैं. लेकिन आपने कई बार देखा होगा की पूजा करते समय आपके साथ कोई सामान्य घटना हो जाती हैं. जैसे की पूजा करते समय हाथ का जल जाना या फिर पूजा करते समय कपडे का जलना.

लेकिन क्या आपको पता है यह सब घटना क्यों घटती हैं. यह सब घटना आपको कुछ ना कुछ संकेत देती हैं. इसलिए आपके साथ इस प्रकार की घटना घटित होती हैं. यह आपको बुरे और अच्छे संकेत देने वाली मानी जाती हैं.

Puja-karte-samay-kapda-Jalna (2)

आपके साथ कभी ऐसा भी हुआ होगा की पूजा करते समय कपड़ा जल गया. लेकिन यह घटना आपको बहुत ही बड़ा संकेत देती हैं. अब क्या संकेत देती है यह जानने के लिए आर्टिकल को पूरा पढ़े.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की पूजा करते समय कपड़ा जलना क्या संकेत देता हैं. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

पूजा करते समय कपड़ा जलना शुभ या अशुभ

अगर पूजा करते समय किसी भी कारणवश कपड़ा जल जाता हैं. तो यह आपके लिए अशुभ माना जाता हैं. यह घटना आपको संकेत देती है की आपकी कुंडली में कोई ग्रह बुरे प्रभाव से मौजूद हैं. जो आपको पीड़ा देने वाला हैं. उस ग्रह के कारण आपके जीवन में समस्या उत्पन्न होने वाली हैं.

अगर आपके साथ भी इस प्रकार की घटना होती हैं. तो उसे नजरअंदाज बिलकुल भी ना करे. आपको किसी अच्छे ज्योतिष से अपनी कुंडली जांच करवानी हैं. और जिस ग्रह से आपके जीवन में समस्या आने वाली हैं. उसे खुश करने के उपाय करने हैं.

इससे आपके जीवन में आने वाली समस्या टल जाएगी. और आपको सुख शांति समृद्धि की प्राप्ति होगी.

पूजा करते समय दीपक का बुझना

पूजा करते समय दीपक का बुझना आपके लिए बहुत ही अशुभ माना जाता हैं. इससे बुरा आपके लिए और कुछ भी नही हो सकता हैं.

अगर पूजा करते समय दीपक बुझ जाता हैं. तो मान लीजिए की आपके इष्टदेव आपकी पूजा से खुश नही हैं. वह आपसे नाराज हैं. या फिर आपने सच्चे मन से उनकी पूजा नही की हैं.

अगर पूजा करते समय दीपक बुझ जाता हैं. तो आपको तुरंत ही भगवान से क्षमा याचना करनी चाहिए. आपको आपके गलती की सजा माफ़ करने की प्रार्थना भगवान से करनी चाहिए. इससे आपको थोडा बहुत लाभ हो सकता हैं. और आपकी समस्या कुछ हद तक खत्म हो सकती हैं.

अगर ऐसी घटना होती है तो भगवान को प्रसन्न करने के उपाय करे. जैसे की दान पुण्य आदि करे. भगवान को प्रसाद का भोग लगाये. अगर आप चाहे तो अपने घर पर हवन आदि कर सकते हैं. इससे भगवान प्रसन्न हो सकते हैं.

पूजा करते समय रोना आना

अगर पूजा करते समय आपको रोना आता हैं. तो यह बहुत ही शुभ संकेत माना जाता हैं. यह घटना आपको संकेत देती है की आने वाले निकट समय में आपके जीवन की परेशानी खत्म होने वाली हैं. भगवान आप पर प्रसन्न है. इसलिए आपकी मनोकामना जल्द ही पूर्ण हो सकती हैं.

इसके अलावा यह भी माना जा सकता है की आपके जीवन से बुराइयां खत्म होगी. आप अंदर से भावुक हो जाने पर भी पूजा करते समय कई बार रोना आ जाता हैं.

पूजा करते समय जमाई आना

पूजा करते समय जमाई आना शुभ माना जाता हैं. यह घटना आपको संकेत देती है की आने वाले समय में आपके जीवन में कोई ऐसा शख्स आने वाला हैं जो आपको खुशिया देनें वाला होगा.

Puja-karte-samay-kapda-Jalna (3)

हनुमान चालीसा पढ़ते समय उबासी आना

हनुमाना चालीसा पढ़ते समय उबासी आना अशुभ माना जाता हैं. इससे माना जा सकता है की आपका ध्यान हनुमान चालीसा पढने में नही हैं. आप मजबूरन हनुमान चलीसा पढ़ रहे हैं. इसलिए आपको फ्रेश होकर ही हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए. इस तरीके से हनुमान चालीसा का पाठ करना अशुभ माना जाता हैं.

पूजा करते समय हाथ का जलना

पूजा करते समय हाथ का जलना बिलकुल भी अच्छा नही माना जाता हैं. ऐसा होने पर तुरंत ही भगवान से माफ़ी मांगे. क्योंकि भगवान आप पर नाराज होने पर ही इस प्रकार की घटना का आपको सामना करना पड़ता हैं.

घर में मंदिर में आग लगना

घर के मंदिर में आग लगना अशुभ माना जाता हैं. अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो मान लीजिए आपके घर में नेगेटिव ऊर्जा बढ़ रही हैं. जो आपको बर्बाद कर सकती हैं. इसलिए किसी गुरु और बाबा का सहारा ले.

FAQs (अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न)

दुसरो के पुराने कपड़े पहनने से क्या होता है?

दुसरो के कपड़े पहनना अच्छा नही माना जाता हैं. अगर हम दुसरो के कपड़े पहनते हैं. तो उसके दुर्भाग्य हमे लग जाते हैं.

पुराने कपड़ो का क्या करना चाहिए?

अगर आपके पास पहनने योग्य पुराने कपड़े है तो किसी जरूरतमंद गरीब लोगो को पुराने कपड़े दान कर दे.इससे आपको पुण्य की प्राप्ति होगी. इसके अलावा पुराने कपड़े आप आपके घर के  साफ सफाई में भी काम ले सकते हैं.

पूजा करते समय दीपक का मुख किधर होना चाहिए?

पूजा करते समय दीपक उत्तर दिशा में रखना चाहिए. अगर आप घी का दीपक करते हैं. तो उसको आपकी बाए तरफ रखना चाहिए. अगर आप तेल का दीपक करते हैं. तो उसको आपकी दाई तरफ रखना चाहिए.

दीपक के नीचे चावल क्यों रखते हैं?

दीपक के नीचे चावल रखना शुभ माना जाता हैं. यह शुद्धता का प्रतीक माने जाते हैं. इसलिए दीपक के नीचे चावल रखने चाहिए.

दीपक किस धातु का होना चाहिए

दीपक चांदी, सोना, लोहा, पीतल आदि का होगा तो शुभ माना जाता हैं.

Puja-karte-samay-kapda-Jalna (1)

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है की पूजा करते समय कपड़ा जलना क्या संकेत देता है. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा पूजा करते समय कपड़ा जलना आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top