पति को पत्नी का कौन सा अंग नहीं छूना चाहिए – पंडित ज्योतिचंद्र शर्मा से जाने

पति को पत्नी का कौन सा अंग नहीं छूना चाहिएपंडित ज्योतिचंद्र शर्मा से जाने – वैसे अगर देखा जाए तो पति पत्नी का रिश्ता एक पवित्र रिश्ता माना जाता हैं. शादी के बाद पति का अपनी पत्नी पर पूरा हक़ होता हैं. लेकिन आज भी हमारे समाज में कुछ पुरानी मान्यताएं है जिसका पालन हर एक पति को करना चाहिए.

हमारे पुराने शास्त्रों में पत्नी के कुछ ऐसे अंगो के बारे में बताया गया हैं. जिसे छूना पति के लिए अशुभ या पाप माना जाता हैं. अगर पति पत्नी के ऐसे अंगो को छूता हैं. तो उसको जीवन में काफी सारी समस्याओ का सामना करना पड़ सकता हैं.

Pti-ko-patni-ka-kaun-sa-ang-nhi-chuna-chahie (2)

आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ऐसे ही कुछ अंगो के बारे में बताने वाले हैं. जिसे पति को नही छूना चाहिए.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की पति को पत्नी का कौन सा अंग नहीं छूना चाहिए. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान करने वाले हैं. तो यह सभी महत्वपूर्ण जानकारी को पाने के लिए आज का हमारा यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

पति को पत्नी का कौन सा अंग नहीं छूना चाहिए

पति को पत्नी के नीचे बताए गए अंगो को नही छूना चाहिए.

  • नाभि
  • चरण यानी की पैर और
  • कमर

पत्नी के यह तीन अंग जो की पति को कभी नही छूने चाहिए. हमारे पुराने शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है की पति को पत्नी के चरण यानी की पैर कभी भी नही छूने चाहिए. क्योंकि पति के द्वारा पत्नी के पैर को छूना अशुभ माना जाता हैं.

पति को अपनी पत्नी के पैर हमेशा ही सम्मान के साथ ही छूने चाहिए. क्योंकि औरत को एक लक्ष्मी का स्वरूप माना जाता हैं.

इसके अलावा पति को अपनी पत्नी के कमर को छूने से भी बचना चाहिए. ऐसा करना भी अशुभ माना जाता है. साथ साथ पति को अपनी पत्नी की नाभि छूने से बचना चाहिए. क्योंकि ऐसी मान्यता है की एक औरत की नाभि में माता काली का वास होता हैं.

अगर आप पत्नी की नाभि को छूते हैं. तो इससे माता काली रुष्ट हो सकती हैं. और इससे आपके जीवन में परेशानियाँ आ सकती हैं. यह तीन अंग ऐसे है जो पति को पत्नी के नही छूने चाहिए.

पति को पत्नी की नाभि क्यों नहीं छूना चाहिए

हमारे पुराने शास्त्रों के अनुसार पति को पत्नी की नाभि नही छूनी चाहिए. क्योंकि यह अशुभ माना जाता हैं. ऐसा भी माना जाता है की किसी भी महिला की नाभि यानी की पत्नी की नाभि में साक्षात माता काली विराजमान होती हैं. और ऐसे में अगर पति पत्नी की नाभि छूते हैं. तो यह माता काली का अपमान माना जाता हैं. इसलिए भूलकर भी पति को पत्नी की नाभि छूने से बचना चाहिए.

पत्नी का पैर दबाना चाहिए कि नहीं / पति को पत्नी के पैर क्यों दबाने चाहिए

हाँ अगर पति चाहे तो पत्नी के पैर दबा सकते हैं. लेकिन पैर दबाते समय आपका भाव सम्मान का भाव होना चाहिए. अगर आप पत्नी का सम्मान करते हुए पत्नी का पैर दबाते हैं. तो यह अच्छा माना जाता हैं.

शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है की पति अगर पत्नी के पैर दबाते हैं. तो पति को सुख, शांति और समृद्धि की प्राप्ति होती हैं.

पति का नाम क्यों नहीं लेना चाहिए

वैसे अगर देखा जाए तो आज के मोडर्न जमाने में पत्नियां अपने पति का नाम लेकर ही बुलाती हैं. लेकिन हमारे धार्मिक स्कंद पुराण में बताया गया है की पत्नी अगर पति का नाम लेती हैं. तो इससे पति की उम्र कम होती हैं. इसलिए हो सके तो पत्नी को अपने पति का नाम नही लेना चाहिए.

पतिपत्नी साथ खाने से क्या होता है

पति पत्नी के साथ खाना खा सकते हैं. लेकिन कुछ मान्यता ऐसी है की पति और पत्नी को एक ही थाली में खाना नही खाना चाहिए. इससे दाम्पत्य जीवन में मनमुटाव पैदा होता हैं.

अगर पति पत्नी एक ही थाली में खाना खाते हैं. तो वास्तु शास्त्र के अनुसार उन्हें नीचे बताई गई समस्या का सामना करना पड सकता हैं.

  • इससे पति की बुद्धि भ्रष्ट हो सकती हैं.
  • इससे पति सिर्फ अपनी पत्नी के बारे में ही सोचता हैं.घर के अन्य लोगो से और रिश्तेदारों से उसको कोई भी मोह नही होता हैं. और ऐसा होना अच्छा नही माना जाता हैं.
  • इससे घर के सदस्यों में कलह उत्पन्न हो सकता हैं.
  • ऐसा करने से पति सिर्फ अपनी पत्नी को ही सर्वोपरि मानने लगता हैं. अन्य लोगो को मान नही देता हैं.
  • इससे पति के भाग्य दुर्भाग्य में परिवर्तित हो जाते हैं.
  • पत्नी के पुण्य और पाप पति को मिलने लगते हैं.

Pti-ko-patni-ka-kaun-sa-ang-nhi-chuna-chahie (1)

FAQs (अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न)

पति को क्या कहकर बुलाना चाहिए?

पति को पत्नी स्वीट हार्ट, जान, जानू, बाबु, हनी, डार्लिंग, मिस्टर कुल, लाइफ लाइन आदि नामो से बुला सकती हैं.

क्या पत्नी को अपने पति का नाम लेना चाहिए?

वैसे अगर कुछ धार्मिक शास्त्र और स्कंद पुराण के अनुसार देखा जाए तो पत्नी को पति का नाम लेकर नही बुलाना चाहिए. लेकिन अगर आप चाहती हैं. तो आप आपकी मर्जी से अपने पति का नाम लेकर बुला सकती हैं.

पुरुष का कौन सा अंग पवित्र होता है?

मान्यता के अनुसार पुरुष की नाभि पुरुष का पवित्र अंग माना जाता हैं. बिलकुल उसी प्रकार स्त्री की नाभि भी स्त्री का पवित्र अंग माना जाता हैं. शास्त्रों के अनुसार शरीर में नाभि को पवित्र अंग माना जाता हैं. क्योंकि इससे ही प्रत्येक मनुष्य का माँ की गर्भ में भरणपोषण होता हैं. और इससे पोषण मिलने से शरीर के अन्य अंगो का विकास होता हैं.

Pti-ko-patni-ka-kaun-sa-ang-nhi-chuna-chahie (3)

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है की पति को पत्नी का कौन सा अंग नहीं छूना चाहिए. इसके अलावा इस टॉपिक से जुडी अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं.

हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा. अगर उपयोगी साबित हुआ हैं. तो आगे जरुर शेयर करे. ताकि अन्य लोगो तक भी यह महत्वपूर्ण जानकारी पहुंच सके.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा पति को पत्नी का कौन सा अंग नहीं छूना चाहिए / पत्नी का पैर दबाना चाहिए कि नहीं आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top